Prahlad Jani Mataji 80 Years without Food & Water | अस्सी साल से भूखे प्यासे प्रह्लाद जानी

Prahlad Jani प्रहलाद जानी “The Boy with Divine Powers” यानि “माताजी” या “चुनरी वाली माताजी” 80 साल होने को है फिर भी वह बिना कुछ खाए पिए जीवित है।

Read More

करमनघाट हनुमान मंदिर | Karmanghat Hanuman Temple

शुभ मुहूर्त में राजा ने ठीक उसी स्थान पर हनुमान जी के एक बहुत ही सुंदर मंदिर का निर्माण करवाया। श्रीराम का ध्यान करते हुए हनुमान जी के इस मंदिर को नाम दिया गया “ध्यान्अंजनेय स्वामी “मंदिर ।

Read More

भोपाल का “ताजमहल” | “Taj Mahal” in Bhopal

ताजमहल का नाम सुनते ही जो सबसे पहले दिमाग में आता है वो है आगरा का ताजमहल। जैसा कि आप जानते है कि वो सात अजूबों में से एक है। पर क्या आप जानते है कि एक ताजमहल और है और वो आगरा में नहीं बल्कि भोपाल में है। चौकिए मत आपको बताते है एक और ताजमहल के बारे में जो कि इतिहास का नमूना है।

Read More

राम और हनुमान का युद्ध | Battle of Ram and Hanuman

हनुमानजी को जब मिला मृत्युदंड : भगवान राम जब राज सिंहासन पर विराजमान थे तब नारद ने हनुमानजी से विश्वामित्र को छोड़कर सभी साधुओं से मिलने के लिए कहा। हनुमानजी ने ऐसा ही किया। तब नारद मुनि विश्वामित्र के पास गए और उन्होंने उन्हें भड़काया। इसके बाद विश्वामित्र गुस्सा हो गए और उन्होंने इसे अपना अपमान समझा।

Read More

Hanuman’s son ‘Makardhwaj’ | हनुमान जी का पुत्र ‘मकरध्वज’

हनुमानजी को बालब्रह्मचारी कहा जाता है, और महिलाओं को मंदिरों में उनकी पूजा करने की अनुमति भी नहीं दी जाती है। लेकिन क्या आप जानते हैं, हनुमान जी का एक पुत्र भी था। जिसका नाम था – मकरध्वज। आपको सुनकर आश्चर्य होगा, लेकिन यह बात बिलकुल सही है। वही इस बारे में सबसे रोचक तथ्य तो यह है कि पवनपुत्र खुद भी इस बारे में नहीं जानते थे।

Read More

प्रेम के देवता कामदेव | God of Love Kamdev

हिन्दू धर्म में कामदेव, कामसूत्र, कामशास्त्र और चार पुरुषर्थों में से एक काम की बहुत चर्चा होती है। खजुराहो में कामसूत्र से संबंधित कई मूर्तियां हैं। अब सवाल यह उठता है कि क्या काम का अर्थ सेक्स ही होता है? नहीं, काम का अर्थ होता है कार्य, कामना और कामेच्छा से। वह सारे कार्य जिससे जीवन आनंददायक, सुखी, शुभ और सुंदर बनता है काम के अंतर्गत ही आते हैं। धर्म, अर्थ, काम और मोक्ष।

Read More

Name of ShriRam’s Bow | श्रीराम के धनुष का नाम

कोदंड एक ऐसा धनुष था जिसका छोड़ा गया बाण लक्ष्य को भेदकर ही वापस आता था। एक बार की बात है कि देवराज इन्द्र के पुत्र जयंत ने श्रीराम की शक्ति को चुनौती देने के उद्देश्य से अहंकारवश कौवे का रूप धारण किया और सीताजी को पैर में चोंच मारकर लहू बहाकर भागने लगा।

Read More

रुद्राक्ष | Rudraksh

आयुर्वेद के अनुसार रुद्राक्ष एक तरह का फल है। इसमें अनेक औषधीय गुण मौजूद है। रुद्राक्ष को धारण करने से या इसे पानी में कुछ घंटे रखकर उस पानी को ग्रहण करने से दिल से संबंधित बीमारियां दूर होती है व मानसिक रोगों के साथ ही नसों से जुड़े रोग भी खत्म होते हैं। साथ ही, याददाश्त में भी बढ़ोतरी होती है।

Read More

बाली-हनुमान की लड़ाई | Bali-Hanuman Battle

हनुमानजी उसी वन में तपस्या कर रहे थे और अपने आराध्य भगवान राम के नाम का जाप कर रहे थे। बाली के चिल्लाने से उनकी तपस्या में खलल पड़ा। उन्होंने बाली से कहा, वानर राज आप अति-बलशाली हैं, आपको कोई नहीं हरा सकता, लेकिन आप इस तरह चिल्ला क्यों रहे हैं?

Read More