India’s Largest Political Family | भारत का सबसे बड़ा राजनीतिक परिवार

मुलायम सिंह यादव खुद सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष हैं, दो भाई पार्टी के महासचिव और बेटा प्रदेश अध्यक्ष है। यह समाजवाद है या परिवारवाद ? भारत की राजनीति में परिवारवाद का बोलबाला अब काफी बढ़ गया है। शायद ही कोई पॉलिटिकल पार्टी ऐसी हो, जिसमें परिवारवाद और वंशवाद की बेल दिखाई नहीं पड़ती हो। आइये जाने India’s Largest Political Family | भारत के सबसे बड़े राजनीतिक परिवार के बारे में…….

मुलायम सिंह यादव का जन्म उत्तर प्रदेश के इटावा जिले के सैफई में 22 नवम्बर, 1939 को हुआ था। इनके पिता का नाम सुघर सिंह और माता का नाम मूर्ति देवी है। पांच भाइयों में तीसरे नंबर के मुलायम सिंह के दो विवाह हुए हैं। पहली शादी मालती देवी के साथ हुई। उनके निधन (2003) के पश्चात उन्होंने साधना गुप्ता से विवाह किया। अखिलेश यादव मालती देवी के पुत्र हैं, जबकि मुलायम सिंह यादव के छोटे बेटे प्रतीक यादव को उनकी दूसरी पत्नी ने जन्म दिया है।

समाजवादी पार्टी सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव के परिवार को India’s Largest Political Family | भारत का सबसे बड़ा राजनीतिक परिवार कहा जाए तो अतिश्योक्ति नहीं होगी। इटावा के मुलायम घराने से 19 लोग फिलहाल सक्रिय राजनीति में हैं। ग्राम पंचायत से लेकर देश की पंचायत (संसद) तक में इस परिवार के सदस्य बैठे हुए हैं। मुलायम के घर के 3 और ‘होनहार’ राजनीति में शामिल होने के लिए लाइन में लगे हुए है

रविवार को समाजवादी पार्टी ने जब यूपी चुनाव के लिए उम्मीदवारों की पहली लिस्ट जारी की तो इस कुनबे से एक और नाम को पॉलिटिक्स में एंट्री मिली। मुलायम सिंह यादव की सबसे छोटी बहू अपर्णा यादव को 2017 यूपी विधानसभा के लिए लखनऊ कैंट से टिकट मिला है। इस तरह परिवार को 20वां सदस्य भी कमोबेश राजनीति में शामिल हुआ ही माना जाना चाहिए।

इनके अलावा इस घर के दो और सदस्य, मुलायम सिंह यादव के भतीजे आदित्य यादव (भाई शिवपाल के लड़के) और अनुराग यादव (भाई अभय राम यादव के पुत्र) इस कड़ी को विस्तार देने के लिए लगभग तैयार हैं। इन्हें भी यूपी विधानसभा चुनावों के लिए संभावित उम्मीदवार माना जा रहा है। आदित्य पहले से ही स्टेट डेयरी फेडरेशन चेयरमैन हैं। आदित्य को इटावा के भरथना से टिकट मिलने की उम्मीद है। जबकि अनुराग को भी किसी ‘सेफ’ सीट से उम्मीदवार बनाया जा सकता है।

मिलिए India’s Largest Political Family | भारत के सबसे बड़े राजनीतिक परिवार से ……

मुलायम सिंह यादव जो परिवार के मुखिया हैं, तीन बार 1989 से 1991 तक, 1993 से 1995 तक और साल 2003 से 2007 तक उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री रहे चुके हैं। उनके पथ पर चले पुत्र अखिलेश यादव 2012 में यूपी के सीएम बने। मुलायम के भाई शिवपाल सिंह यादव जसवंतनगर से 4 बार से विधायक बन रहे हैं। 2014 में मुलायम ने खुद दो जगहों से चुनाव जीता। लेकिन बाद में उनकी एक सीट (मैनपुरी) उनके पोते तेज प्रताप सिंह के पास गई। मुलायम के अलावा इस परिवार से लोकसभा में चार सांसद हैं। बहू डिंपल यादव, भतीजे धर्मेंद और अक्षय और पोते तेज प्रताप सिंह।

यह भी जाने :- भारत के राष्ट्रपति भवन का इतिहास | History of Rashtrapati Bhavan of India

मुलायम सिंह यादव के चचेरे भाई राम गोपाल यादव पार्टी के राष्ट्रीय सचिव और राज्य सभा से सांसद हैं। कुल मिलाकर इन आठ लोगों के अलावा परिवार के 11 और सदस्य इटावा और मैनपुरी में पंचायत चुनावों में जीते हैं। इनमें मुलायम के भतीजे अभिषेक यादव ‘अंशुल’ इटावा जिला पंचायत के चेयरमैन हैं। भतीजी संध्या यादव मैनपुरी जिला पंचायत की चेयरमैन हैं। एक दूसरी सदस्य वंदना यादव हमीरपुर जिला पंचायत की चेयरमैन के तौर पर निर्वाचित हुई थीं।

About creativecorners99

नमस्कार दोस्तों, www.creativecorners99.com पर आपका हार्दिक स्वागत है। Creativecorners99.com साईट का उद्देश्य अधिक से अधिक लोगो को रोचक जानकारियां उपलब्ध कराना है। इस साईट पर आप लोगो को धार्मिक, राजनितिक, स्वस्थ्य सम्बन्धी टिप्स, टेक्निकल टिप्स, मोबाइल्स और उससे सम्बंधित ऐप्स और सॉफ्टवर्स की जानकारियां, ब्लॉगिंग से जुडी जानकारियां, बिज़नेस आइडियास, विश्व स्तर की रोचक जानकारियां आसानी से मिलती रहेंगी। इतना ही नहीं आप भी इस साईट पर अपने ज्ञान का योगदान दे सकते हैं, Guest Post के जरिये। धन्यवाद

View all posts by creativecorners99 →

3 Comments on “India’s Largest Political Family | भारत का सबसे बड़ा राजनीतिक परिवार”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *